एक चूक ने इस शख्स को बना दिया कंगाल, वरना आज होते अंबानी से भी ज्यादा धनवान

0
3




आपने हमेशा सफल व्यक्ति की कहानी सुनी होगी लेकिन आज हम आपको एक ऐसे असफल व्यक्ति के बारे में बताने वाले हैं जिनकी एक छोटी गलती की वजह से वह कंगाल हो गये। बिना सोच समझकर और जल्दबाजी में लिया गया फैसला हमेशा मुसीबत को दावत देता है। कई बार इंसान ऐसी गलती कर बैठता है। जिसका पछतावा उसे जीवन भर भुगतना पड़ता है। आज हम आपको ऐसे ही एक शख्स के बारे में बताने वाले हैं। जिनकी एक गलती की कारण वह दुनिया के सबसे अमीर आदमी बनने से दूर रह गये।

दरअसल हम बात करने वाले हैं एप्पल के तीसरे को फाउंडर रोनाल्ड वेन की। इस बात से सभी वाकिफ हैं कि एप्पल दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। रोनाल्ड ने एप्पल की शुरुआत में उसके 10% शेयर केवल 800 डॉलर यानी कि 52 हजार रुपए में भेज दिए थे। इस आंकड़े को अगर आज की तारीख में तुलना की जाए तो एप्पल की पूरी कमाई में 10% शेयर 5 लाख करोड़ रुपए के बराबर है।

एप्पल की सफलता में रोनाल्ड का भी हाथ:

दुनिया की सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी कहे जाने वाली एप्पल शुरुआत में 1 अप्रैल 1976 को तीन दोस्तों के द्वारा बनाया गया था। जिसमें स्टीव जॉब्स, स्टीव वॉजनिएक और रोनाल्ड वेन शामिल थें। इस कंपनी की शुरुआत एक छोटे से गिराज में हुई थी। कंपनी की शुरुआत एक पर्सनल कंप्यूटर निर्माता के तौर पर की गई थी। रोनाल्ड ने भले ही एप्पल को छोड़ दिया हो लेकिन एप्पल को सफल बनाने के पीछे उनका बहुत बड़ा योगदान है। रोनाल्डो जॉब्स और वॉजनिएक से ज्यादा अनुभवी थे, उनकी उम्र उस वक्त 42 साल थी। एप्पल का पहला logo डिजाइन रोनाल्ड ने किया था। उस समय रोनाल्ड वेन कंपनी के ऑर्गेनाइज करने का काम करते थें।

इस वजह से छोड़ दी कंपनी:

आज रोनाल्ड अपने दोस्तों की तरह इतनी अधिक चर्चित नहीं है अगर वह कंपनी को नहीं छोड़ते तो उनके पास बहुत दौलत और शोहरत होती। उन्हें भी यह अंदाजा नहीं था कि एप्पल भविष्य में इतनी बड़ी कंपनी बन जाएगी।
लेकिन कंपनी को छोड़ने का फैसला उनका खुद का था। उनकी एप्पल छोड़ने की एक वजह स्टीव जॉब्स भी थे, जो काफी जिद्दी थे। एप्पल कंपनी बनने में अधिक समय भी नहीं हुआ था और उन्होंने उसे छोड़ दिया था। उस वक़्त वह अपनी कंपनी से ही खुश थें। वह सालाना 15 लाख रुपए कमाते थें। स्टीव जॉब्स और स्टीव वॉजनिएक के कहने पर भी उन्होंने जॉइन नहीं किया था।

एप्पल को छोड़ना रोनाल्ड की सबसे बड़ी गलती :

आगे चलकर के एप्पल को छोड़ना उनकी सबसे बड़ी गलती साबित हुई। बाद में एप्पल दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन गई। आज एप्पल किस मुकाम में है ये पूरी दुनिया जानती है। आज कंपनी की वेल्यूएशन करीब 850 बिलियन डॉलर यानी करीब 55 लाख करोड़ है।