नवजात के साथ ड्यूटी पर लौटीं IAS सौम्‍या पांडेय, 22 दिन पहले हुई है डिलीवरी, जज्‍बे को सलाम

0
0

गाजियाबाद की एक महिला अधिकारी की चर्चा सोशल मीडिया पर खूब हो रही है । अधिकारी अपने प्रसव के सिर्फ 22 दिनों बाद ही दफ्तर लौट आई हैं ।

New Delhi, Oct 13: सरकारी दफ्तर में अपने दुधमुंहे बच्‍चे के साथ काम कर रहीं महिला अधिकारी सौम्‍या पांडेय किसी मिसाल से कम नहीं हैं । अपने प्रसव के सिर्फ 22 दिनों में ही उन्‍होंने ड्यूटी ज्‍वॉइन कर ली है । गाजियाबाद के मोदीनगर की एसडीएम आईएएस सौम्या पांडेय ने आराम को तवज्‍जो ना देकर काम पर लौटना सही समझा । दफ्तर में अपने कामकाज के साथ-साथ वो मां होने का फर्ज भी वो बखूबी निभा रही हैं ।

कोरोना काल में बढ़ गई हैं जिम्‍मेदारियां
काम के प्रति सौम्‍या की निष्ठा को देखकर लोग उनकी तारीफ करते नहीं थक रहे । ये बात तो स्‍पष्‍ट है कि एक आईएएस अधिकारी होने के कारण उनपर कई प्रशसानिक भार हैं । कोरोना काल में जिम्मेदारियां और बढ़ गई हैं, वहीं नवजात के पालन पोषण की चिंता अलग । लेकिन सौम्या पांडेय ने इन दोनों परिस्थितियों के बीच सामंजस्य बैठाने की ठान ली है । वो अपनी दुधमुंही बच्ची को लेकर अपने दफ्तर आ रही हैं और अपने कर्तव्‍यों का पूरी तरह से पालन कर रही हैं ।

कोविड से बचाव
कोरोनाकाल में मां और बच्‍चा दोनों ही रिस्‍क जोन में आते हैं, ऐसे में सौम्या कहती हैं कि कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए वह अपने साथ-साथ बच्ची का भी विशेष ध्यान रखती हैं और सभी फाइलों को भी वह बार-बार सैनिटाइज करती हैं । सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीरें वायरल हुईं तो मीडिया का ध्‍यान भी उन पर गया । न्‍यूज चैनल से बातचीत में उन्होंने बताया कि अपने अधिकारियों और कर्मचारियों का सहयोग भी उन्हें इस दौरान लगातार मिला है ।

2017 बैच की अधिकारी हैं सौम्‍या
आपको बता दें कि प्रयागराज की रहने वालीं सौम्या पांडेय 2017 बैच की आईएएस अधिकारी हैं । एक अधिकारी होने का कर्तव्‍य तो वो निभा ही रही हैं, साथ ही एक मां का रोल भी बखूबी पूरा कर रही हैं । साथी अधिकारी भी सौम्‍या की पूरी मदद कर रहे हैं, सभी के साथ से ही उनके लिए जिम्‍मेदारियों का निर्वहन करना थोड़ा आसान हो गया है ।