शादी के 6 महीने में ही हवा हो गई मोहब्बत,हुआ खुलासा तो सहमा हर कोई

0
277




आये दिन प्रेम मोहब्बत के किस्से सामने आते हैं, और फिर उसी प्रेम में हत्या की वारदात भी सुनने को मिल जाती है। आज हम आपके लिए ऐसी एक खबर के साथ हाजिर हैं जिसे सुन कर आपकी रूह तक कांप जाएगी। यह किस्सा है एक ऐसे जोड़े का जिन्होंने प्रेम विवाह किया लेकिन शादी के 6 महीनों के भीतर ही इस रिश्ते में प्रेम का अंत हो गया।

यह वारादात मझोला थाना क्षेत्र के गांगन वाली मैनाठेर गाँव की है। वारदात को देर रात अंजाम दिया गया। फर्म कर्मी जितेंद्र ने गला दबाकर अपनी पत्नी मंजू को मार डाला। जितेंद्र और मंजू में शादी से पहले प्रेम संबंध था,इसे शादी में बदलने के लिए जितेंद्र ने अपने एक रिलेटिव को मंजू के घर रिश्ता लेकर भेजा था। इन दोनों का परिवार इस शादी के लिए राजी हो गया और,इन दोनों की अरेंज मैरिज हो गई। लेकिन शादी के केवल 6 महीने बाद ही इन्हें रिश्ते में अनबन शुरू हो गई और पति पत्नि के बीच संबंध खराब हो गए।

पुलिस की जांच में यह सामने आया कि जितेंद्र और मंजू की शादी 2 साल पहले हुई थी। 6 महीने तक इनके बीच सब सही रहा। लेकिन उसके बाद इन दोनों के छोटी छोटी बातों पर बहन और विवाद शुरू हो गया। दोनो ही एक दूसरे पर शक करते थे। इस लड़ाई झगड़े के कारण मंजू अपने मायके चली जाया करती थी। पूछताछ में मंजू के भाई ने बताया कि जितेंद्र के किसी दूसरी महिला से संबंध थे जिसके कारण वही रात रात भर घर से बाहर रहता था। आपत्ति जताने पर वह मंजू के साथ मारपीट करता था।

मंजू और जितेंद्र की लड़ाई भी इसी बात को लेकर हुई थी। और वो अपने मायके लौट आई थी। मंजू के भाई ने बताया कि जितेंद्र ने इस बारे में वादा किया था कि वे किसी दूसरी स्त्री से कोई संबंध नहीं रखेगा। और सुलह की थी,विवाद को खत्म जान कर मंजू भी भैया दूज के बाद अपने ससुराल लौट आई थी। इसके बाद 30 नवम्बर सोमवार को मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र में जितेंद्र की पत्नी मंजू की गला दबा कर हत्या कर दी गई।

इसकी शिकायत मंजू के पति जितेंद्र ने दर्ज करवाई जिसमे उसने बताया कि उसके घर डकैती के लिए 5 बदमाश घुस आए और विरोध करने पर पत्नी मंजू को मार डाला। लेकिन जब पुलिस ने इस केस की जांच पड़ताल शुरू की तो यह मामला कुछ और ही निकला। मंगल वार को मृतक मंजू के पिता के तहरीर को आधार मान के पुलिस ने मंजू के पति,एवम पति के भाई भाभी पर दहेज के लिए हत्या का मुकदमा दायर किया है।