सांसद रीता बहुगुणा जोशी के खिलाफ क्यों जारी किया गया गिरफ्तारी वारंट

0
9

लखनऊ में कैंट से विधानसभा चुनाव लड़ने के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में कोर्ट से गैरहाजिर चल रहीं वर्तमान में प्रयागराज की सांसद रीता बहुगुणा जोशी के खिलाफ एमपी एमएलए कोर्ट के विशेष न्यायाधीश पवन कुमार राय ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। कोर्ट ने मामले की सुनवाई के लिए चार जनवरी की तारीख तय करते हुए सांसद के जमानतदारों को नोटिस जारी करने का भी आदेश दिया है।
आपको बता दें कि कोर्ट ने आदेश देते हुए कहा कि यह मामला आठ वर्षों से लंबित है, लेकिन आरोपी रीता बहुगुणा जोशी कोर्ट में हाजिर नही हो रही हैं। इसके चलते मामले में कोई कार्यवाही आगे नहीं बढ़ पा रही है, जबकि हाईकोर्ट ने ऐसे मामलों को जल्द निपटने का आदेश दिया है। पत्रावली के अनुसार, सर्विलांस टीम के स्टेटिक मजिस्ट्रेट मुकेश चतुर्वेदी ने कृष्णानगर में 17 फरवरी 2012 को रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट में कहा गया था कि वह अपनी टीम के साथ चुनाव आयोग के निर्देश पर चेकिंग कर रहे थे, तभी उन्हें पता चला कि चुनाव प्रचार का समय समाप्त होने के बाद भी कांग्रेस प्रत्याशी रीता बहुगुणा जोशी अचार संहिता का उल्लंघन करते हुए प्रचार कर रही हैं। इस पर मजिस्ट्रेट बजरंगनगर पहुंचे तो देखा शाम सात बजे रीता बहुगुणा जोशी कांग्रेस के पक्ष में वोट मांग रही थीं।