रामविलास पासवान की बेटी का छलका दर्द, बोली- चिराग भैया की माँ ने पापा को हमसे दूर कर दिया

0
46




नेता राम विलास पासवान अब इस दुनिया में नहीं है उनके परिवार वालो से लेकर उनके चाहने वाले सभी उनके जाने के बाद से ही दुखी है अब भी आशा पासवान की आँखें उनकी पिता को याद करके रो देती हैं आपको बता दे की आशा रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी की छोटी बेटी है और कभी भी आशा से उनके पिता से जुड़ा सवाल पूछा जाता है तो वह यह कह कर रो देती हैं कि, “छोटी माँ.. आखिर आपने ऐसा क्यों किया? हम पापा से मिलना चाहते थे लेकिन मैडम ने मना कर दिया”

आशा का कहाँ है की उनके पिता रामविलास पासवान सबको एक धागे में पिरो कर साथ रखना चाहते थे पर मैडम ने जानकर उन्हें सबसे दूर कर दिया वो कहते है “जब मुझे पता चला कि पापा ठीक नहीं हैं तो मैं और मेरे हसबैंड उनसे एक बार मुलाकात करना चाहते थे लेकिन मैडम ने फोन पर कह दिया कि लॉकडाउन में मत आओ” इस साथ ही उन्होंने कहा की वह पिता से मिलने के लिए तिक्त भी करवा चुकी थी पर उनकी दूसरी माँ ने उन्हें अंतिम बार भेंट तक नहीं करने दी थी।

रामविलास पासवान उनकी बनाई कचरी, घुघनी और मच्छली खाना बेहद पसंद था।वैसे अब आशा की उम्र 46 साल की है और उनकी तबियत भी काफी खराब सी रहती है आशा छह महीने पहले जब उनकी तबियत खराब थी तो वह इलाज के लिए दिल्ली गई थी और उनसे मिलने उनके पिता रामविलास भी पहुंचे थे,आशा के अनुसार वह हमेशा से उन्हें एकसाथ जोड़ कर रखना चाहते थे।

इसके साथ ही नाना रामविलास पासवान का लगाव आशा की बेटी तान्या से भी था पर नाना के जाने के बाद वह पूरी तरह से गुमसुम रहती हैं तान्या बताती है की जब वो पांचवीं कक्षा में थी तब एक दिन अचानक से नाना जी उनसे कहा अपना बैग दिखाओ इसमें आखिर क्या क्या रखती हो’ बैग में उन्होंने तान्या की टूटी हुई लिपस्टिक देखी तो मुस्कुरा दिए और अगले ही दिन एक नई लिपस्टिक ला कर दे दी।

उन्होंने बताया की “मुहे आज भी सब याद है कि नाना जी से जब भी मैंने कुछ माँगा था उन्होंने मुझे कभी ना नहीं बोला था बल्कि बिना मांगे भी वह सब कुछ ला कर दिया करते थे”