साये की तरह लालू के साथ रहते थे पिता, अब बेटी को राजद ने सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

0
3

पूर्व राजद सांसद जय प्रकाश नारायण यादव की दो बेटियां है, जिसमें दिव्या प्रकाश यादव बड़ी बेटी है, तो छोटी बेटी का नाम शेफाली है।

New Delhi, Oct 15 : बिहार विधानसभा चुनाव के लिये 28 अक्टूबर को पहले चरण का मतदान होना है, पहले चरण में अपनी किस्मत आजमा रहे प्रत्याशियों ने नामांकन भी करवा लिया है, तमाम ऐसे प्रत्याशी हैं, जो जबरदस्त चर्चा में हैं, ऐसा ही एक नाम दिव्या प्रकाश यादव का है, दिव्या को राजद ने तारापुर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है।

लालू के करीबी की बेटी
दिव्या प्रकाश यादव पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ रही हैं, वो राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेहद करीबी माने जाने वाले पूर्व सांसद जय प्रकाश नारायण यादव की बेटी है। वैसे तो दिव्या की खुद की कोई राजनीतिक पहचान नहीं है, लेकिन पिता की हैसियत की वजह से उन्हें काफी फायदा मिल रहा है।

बांका से पूर्व सांसद
आपको बता दें कि जय प्रकाश बांका से सांसद रह चुके हैं, लालू यादव ने यूपीए सरकार में उन्हें मंत्री पद भी दिलवाया था, उन्हें लालू और उनके परिवार का काफी करीबी माना जाता है। लालू की साथ साये की तरह रहने वाले जय प्रकाश की बेटी पर तेजस्वी यादव ने भरोसा जताते हुए उन्हें तारापुर विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतारा है।

विरासत को आगे ले जाने की जिम्मेदारी
मालूम हो कि पूर्व राजद सांसद जय प्रकाश नारायण यादव की दो बेटियां है, जिसमें दिव्या प्रकाश यादव बड़ी बेटी है, तो छोटी बेटी का नाम शेफाली है, अपने पिता की राजनीतिक विरासत को आगे ले जाने की जिम्मेदारी दिव्या पर है, इसलिये पार्टी ने उन पर भरोसा जताया है।