क्या आपको पता है कैसे जल्दी बूढ़े हो जाते है लोग…

0
0




दोस्तों आपने अक्सर सुना होगा कि पैसों का अभाव इंसान को वक्त से पहले बूढा कर देता है, ये बात कहने की हो गई लेकिन आज हम आपको इस बात की सत्यता बताएंगे कि क्या सच में ऐसा होता है हाल ही में वैज्ञानिकों ने एक अध्ययन किया है, जिसमें यह बात बताई गई है कि इंसान पैसों की कमी से जल्द ही बुरा हो जाता है.

सुनने में इस बात को ज्यादा हैरानी नहीं होगी परंतु इस बारे में सोचना और विचार करना बहुत जरूरी है जहां हम देखते हैं कि हाई-फाई, और पैसे वाले लोगों का लुक एक आम जिंदगी जीने वाले और गरीब या मिडिल क्लास से बिलकुल ही अलग होगा क्योंकि पैसों से कोई भी इंसान अपने जीवन की सारी समस्याएं जैसे कि स्वास्थ्य संबंधी, खानपान या अपना ध्यान रखना कि कब क्या खाना है और डाइट में क्या लेना है,

 

यह सारी चीजें पैसे से हो सकती है. वही आप एकदम मीडियम क्लास या फिर एक गरीब इंसान को देखकर अंदाजा लगा सकते हैं कि छोटी उम्र में भी वह बूढ़ी जैसा जल्द ही दिखने लग जाएगा, इसके पीछे का कारण स्पष्ट है कि गरीब और मध्यम वर्ग का इंसान सारी वित्तीय परेशानियों को देखते हुए अपने खान-पान और ऐसी चीजों के साथ समझौता कर लेगा जो कि उसके शरीर के लिए जरूरी है.

मियामी विश्वविद्यालय की प्रमुख शोधकर्ता अदीना जैकी अल हजूरी ने कहा- आय गतिशील है, और पृथ्वी एक व्यक्ति आय के बदलाव और गतिशीलता से अपने युवा, व्यस्त और मध्य जीवन मैं इसका अनुभव जरूर करता है.

 

हजूरी के अध्ययन के अनुसार उन्होंने गरीब लोग और ऐसे लोग जो बच्चे परेशानियों से नहीं जूझ रहे थे के बीच यह अध्ययन किया है और जो परिणाम आया वह बेहद चौकाने वाला था. हजूरी ने कहा अध्ययन के दौरान ऐसे लोग जो हरदम परेशानी में रहते हैं, और ऐसे जिन्होंने कभी गरीबी नहीं ऐसे व्यक्तियों की तुलना की, इसका परिणाम बदतर आया .


इस अध्ययन में लगातार गरीब और आर्थिक कठिनाइयों के मध्य संज्ञानात्मक कार्य पर प्रभाव का अध्ययन किया, इसके लिए ये आंकड़े का इस्तेमाल किया. इसमें अमेरिका के 3400 जिनकी आयु 18 से 30 वर्ष थी उन पर अध्ययन किया गया !

फरवरी का यह शोध अमेरिकी पत्र’अमेरिकी जर्नल ऑफ प्रीवेंटिव् मेडिसन ‘नामक पत्रिका में प्रकाशित हुए, उन्होंने कहा यह नजर रखना महत्वपूर्ण रहा कैसे आय की प्रवृतियां और दूसरा सामाजिक आर्थिक मानको ने स्वास्थ्य के नतीजों को प्रभावित किया !