ऑनलाइन फ्रॉड से घबराने की जरूरत नहीं, बस फोन से डायल करें ये 4 नंबर, मिलेगा पैसा वापस


0

नई दिल्ली। ऑनलाइन लेनदेन के आगमन के साथ, ऑनलाइन धोखाधड़ी की संख्या में भी तेजी से वृद्धि हुई है। इसलिए ऑनलाइन पेमेंट करते समय कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है। आज हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका इस्तेमाल आप ऑनलाइन स्कैम होने के बाद कर सकते हैं। साथ ही, ये हेल्पलाइन नंबर हैं जहां आप कॉल करने के बाद अपना पैसा वापस पा सकते हैं।

भारत सरकार भी इस तरह की धोखाधड़ी को रोकने की पूरी कोशिश कर रही है। यही कारण है कि गृह मंत्रालय ने दूरसंचार विभाग के सहयोग से एक नई हेल्पलाइन शुरू की है। इस हेल्पलाइन का काम साइबर धोखाधड़ी के शिकार लोगों की समस्याओं का तत्काल समाधान करना है। गृह मंत्रालय ने 1930 हेल्पलाइन नंबर शुरू किया है। अब अगर आपके साथ कोई धोखाधड़ी होती है तो आप उसे कॉल कर सकते हैं।

कॉल करते ही आपकी शिकायत एक्टिवेट हो जाएगी। शिकायत जारी है यानी सभी जांच एजेंसियां ​​इस पर काम करना शुरू कर देंगी। साथ ही इस मामले में स्थानीय पुलिस भी शामिल होगी। लेकिन याद रखें कि आपको साइबर फ्रॉड के सबूत भी पेश करने होंगे। क्योंकि आमतौर पर साइबर फ्रॉड का सीधा संबंध बैंक से होता है। यही कारण है कि जब भी साइबर धोखाधड़ी होती है तो आपको पुलिस या अन्य एजेंसियों की मदद लेने की आवश्यकता होती है।

शिकायत मिलते ही जालसाज का बैंक खाता फ्रीज कर दिया जाएगा। इसका सीधा सा मतलब है कि बैंक खाता इससे पैसे नहीं निकाल पाएगा और न ही जमा कर पाएगा। लेकिन ऐसा करने के लिए सबसे पहले आपको ऊपर दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर रिपोर्ट करना होगा। ऐसे में आपका पैसा भी वापस मिलने की प्रबल संभावना है। लेकिन इस शिकायत में समय का सार है। सही समय पर शिकायत दर्ज करना भी आसान है।


Like it? Share with your friends!

0

0 Comments

Your email address will not be published.